Skip to Content

उत्तराखंड : पोल के करंट से झुलसे मासूम के कटे दोनों हाथ, गरीब पिता ने कहा कार्रवाई नहीं तो आत्मदाह

उत्तराखंड : पोल के करंट से झुलसे मासूम के कटे दोनों हाथ, गरीब पिता ने कहा कार्रवाई नहीं तो आत्मदाह

Closed
by July 17, 2019 All, News

कक्षा 6 का एक छात्र खेलते खेलते बिजली के पोल की चपेट में आ गया, पोल में करंट फैला हुआ था जिसके कारण छात्र बुरी तरह झुलस गया । उत्तराखंड के बड़े अस्पतालों में दिखाने के बाद छात्र को दिल्ली रेफर किया गया और अंततः इस छात्र के दोनों हाथ काटने पड़े हैं। अपने बेटे की ऐसी हालत देखकर छात्र के मां-बाप काफी दुखी हैं, पिता की आर्थिक हालत अच्छी नहीं है इसी कारण कुछ लोगों ने चंदा कर छात्र का इलाज करवाया, लेकिन इस वक्त आलम यह है कि छात्र के माता-पिता के पास दिल्ली से अपने घर उत्तराखंड जाने के लिए पैसे तक नहीं हैं।

यह घटना पिथौरागढ़ जिले के ख्वांतड़ी गांव की है, इस गांव के निवासी अशोक कुमार का इकलौता पुत्र साहिल दो जुलाई को खेलने के दौरान विद्युत पोल में आए करंट की चपेट में आ गया था। उसे जिला अस्पताल लाया गया, यहां से प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सकों ने हल्द्वानी रेफर कर दिया। साहिल की गंभीर स्थिति को देखते हुए हल्द्वानी के चिकित्सकों ने उसे दिल्ली रेफर कर दिया। साहिल के पूरे शरीर में इंफेक्शन फैलने के चलते चिकित्सकों को उसकी जान बचाने के लिए सोमवार को उसके दोनों हाथ काटने पड़े। 

साहिल के पिता ने बताया है कि अब तक यूपीसीएल और ठेकेदार की ओर से उनकी कुछ मदद नहीं की गई है। उनके पास भोजन और घर आने के लिए रुपये तक नहीं हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री को यूपीसीएल और ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई के लिए पत्र लिखा है और कार्रवाई नहीं की गई तो वो आत्मदाह को मजबूर होंगे। इधर, तहरीर मिलने के बाद थाना पुलिस ने दिल्ली जाकर साहिल की मां और पिता के बयान दर्ज किए हैं और रिपोर्ट पुलिस अधीक्षक को सौंप दी है।

( उत्तराखंड के नंबर वन न्यूज, व्यूज और समसामयिक विषयों के पोर्टल मिरर उत्तराखंड से जुड़ने और इसके अपडेट पाने के लिए नीचे लाइक बटन को क्लिक करें )

Previous
Next
Loading...
Loading...