Skip to Content

उत्तराखंड : अटल आयुष्मान योजना में घोटाले से हड़कंप, सरकार ने की अस्पतालों पर कार्रवाई

उत्तराखंड : अटल आयुष्मान योजना में घोटाले से हड़कंप, सरकार ने की अस्पतालों पर कार्रवाई

Closed
by April 26, 2019 News

उत्तराखंड के सभी निवासियों को मुफ्त स्वास्थ्य जांच और इलाज प्रदान करने वाली अटल आयुष्मान योजना में कुछ अस्पतालों की ओर से घोटाला करने के मामले सामने आए हैं, इस घोटाले में कुछ अस्पतालों और चिकित्सकों ने सरकार को लाखों रुपए की चपत लगाई है, घोटाले का पता चलते ही उत्तराखंड में स्वास्थ्य विभाग भी हरकत में आ गया है और स्वास्थ्य विभाग की ओर से इस तरह के अस्पतालों को योजना की सूची से हटा लिया गया है।

जो घोटाले सामने आ रहे हैं उसमें सरकारी अस्पतालों और स्वास्थ्य केंद्रों पर काम करने वाले कुछ चिकित्सकों की बड़ी भूमिका सामने आ रही है। दरअसल ये चिकित्सक छोटी से छोटी सामान्य बीमारी में भी मरीजों को निजी नर्सिंग होम या निजी अस्पतालों में रेफर कर दे रहे हैं। कई मामले ऐसे हैं जिसमें सरकारी अस्पतालों और स्वास्थ्य केंद्रों पर काम करने वाले संविदा कर्मी डॉक्टर मरीजों को उन अस्पतालों में रेफर कर रहे हैं जहां वो खुद सेवाएं देते हैं, यही नहीं इन निजी अस्पतालों में छोटी से छोटी बीमारी पर भी मरीजों का महंगा इलाज किया जा रहा है और उनको बड़ी बीमारी दिखाई जा रही है। उदाहरण के लिए ऊधमसिंह नगर जिले के राजकीय चिकित्सालय काशीपुर और हरिद्वार जिले के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र रायशी सहित कुछ और जगहों में स्वास्थ्य विभाग ने इस तरह की गड़बड़ियों का खुलासा किया है। 

उत्तराखंड सरकार ने फिलहाल ऐसे अस्पतालों का भुगतान रोक दिया है और कुछ निजी अस्पतालों को योजना की सूची से हटा दिया है, स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों का मानना है राज्य में अन्य जगहों पर भी इस तरह के मामले हो सकते हैं, जिसकी गहनता से पड़ताल की जा रही है। वहीं इस मामले में सबसे ज्यादा कठघरे में संविदा पर काम कर रहे सरकारी डॉक्टर हैं जिन पर नजर रखी जा रही है और उन पर नकेल कसने की तैयारी की जा रही है, कई ऐसे मामले भी हैं जिनमें सरकारी डॉक्टर मरीजों के कागजातों पर हायर सेंटर को रेफर कर रहे हैं लेकिन मौखिक तौर पर उनको अपनी जान पहचान के और अपने फायदे वाले निजी अस्पतालों का पता दे रहे हैं । कई संविदाकर्मी सरकारी डॉक्टरों का निजी अस्पतालों में काम करने से भी वो अपने निजी अस्पतालों को मामले रेफर कर रहे हैं।

( उत्तराखंड के नंबर वन न्यूज और व्यूज पोर्टल मिरर उत्तराखंड से जुड़ने के लिये और इसके अप़ेट पाने के लिये आप नीचे लाइक बटन को क्लिक करें )

Mirror News

Previous
Next
Loading...
Loading...