Skip to Content

उत्तराखंड में निजी अस्पतालों की हड़ताल से सरकारी अस्पतालों में दबाव बढ़ा, सरकार का पूरे इंतजाम का दावा

उत्तराखंड में निजी अस्पतालों की हड़ताल से सरकारी अस्पतालों में दबाव बढ़ा, सरकार का पूरे इंतजाम का दावा

Closed
by February 20, 2019 News

उत्तराखंड में निजी अस्पताल और निजी चिकित्सक अपनी मांगों को लेकर हड़ताल में हैं, पिछले 4 दिन से चल रही हड़ताल के कारण निजी चिकित्सक और निजी अस्पताल मरीजों को अटेंड नहीं कर रहे हैं इस कारण सरकारी अस्पतालों पर दबाव बढ़ गया है । राज्य सरकार और राज्य स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि मरीजों को कोई परेशानी ना हो इसके लिए सरकारी अस्पतालों में पूरे इंतजाम किए गए हैं। चिकित्सकों को भी सरकारी अस्पतालों में पूरे वक्त मौजूद रहने के लिए कहा गया है।

वहीं निजी चिकित्सकों का कहना है कि एमडीडीए और स्वास्थ्य विभाग उन्हें नोटिस भेजकर लगातार परेशान कर रहा है, निजी अस्पतालों का कहना है कि प्रदेश की भौगोलिक स्थित और यहां के लोगों की आर्थिकी के लिहाज से क्लीनिकल एस्टेब्लिशमेंट एक्ट के मानक व्यवहार संगत नहीं हैं। पहाड़ी राज्य होने के चलते इसमें संशोधन की मांग उनके द्वारा की जा रही है। 

उन्होंने कहा कि एमडीडीए की वन टाइम सेटेलमेंट योजना में भी कई खामियां हैं। इससे कंपाउंडिंग के दौरान उन्हें 50 से 60 लाख रुपये देने पड़ रहे हैं। एमडीडीए से उनकी मांग है कि उन्हें रियायत दी जाए। 

(उत्तराखंड के नंबर वन वेब पोर्टल मिरर उत्तराखंड से जुड़ने के लिए नीचे लाइक बटन को क्लिक करें)

Mirror News

Previous
Next