Skip to Content

CM त्रिवेंद्र रावत और हरीश रावत आए आमने-सामने, एक दूसरे पर फेसबुक पर किए कड़े हमले

CM त्रिवेंद्र रावत और हरीश रावत आए आमने-सामने, एक दूसरे पर फेसबुक पर किए कड़े हमले

Closed
by April 23, 2019 News

उत्तराखंड में दो रावत सोशल मीडिया पर आमने सामने आ गए हैं, सबसे पहले पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता हरीश रावत ने फेसबुक पर एक पोस्ट लिखकर वर्तमान मुख्यमंत्री और भाजपा नेता त्रिवेंद्र सिंह रावत पर कड़ा हमला किया ।हरीश रावत ने अपनी फेसबुक पोस्ट में लिखा ” मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी को मेरी चुनावी हारें गिनाने का बड़ा शौक है। मुख्यमंत्री जी, गिरते हैं, शह सवार ही मैदान-ए-जंग में। मुझे हराने वाले लोगों को आज याद नहीं है, हारने वाला हरीश रावत आज भी लोगों की जुबां में जिंदा है। मेरी शुभकामना है कि आप 2022 का चुनाव भेंटे, मगर याद रखना आप रिकार्ड बुक में जिंदा रहेंगे, मैं इसके बाद भी लोगों की भावना और जुबां में जिंदा रहूंगा। रहा सवाल इस बार के चुनाव का, क्या आप कहीं चुनाव में थे। क्या आपके नाम व काम पर किसी ने वोट मांगा। हरीश रावत भूतपूर्व मुख्यमंत्री इस चुनाव में भी मतदाताओं के मध्य जिंदा था, उसके काम की, उसकी सोच की चर्चा हो रही थी। खैर, भगवान ने चाहा तो आपका घमंड जल्दी टूट जाएगा।

इसका जवाब देने में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भी देरी नहीं की, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कड़ा जवाब देते हुए अपनी फेसबुक पोस्ट पर लिखा ” चुनाव में हार जीत लगी रहती है। लोकतंत्र में जिताना व हराना जनता के हाथ में है। मैं समझ सकता हूं कि आप पर चुनाव का बहुत दबाव रहा होगा, इसलिए आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि मैंने प्रदेश के करीब-करीब हर कोने में 15 दिन में 60 जनसभाएं की और हर जगह जनता का भरपूर प्यार और समर्थन मुझे और मेरी पार्टी को मिला। जहां तक बात अहंकार की है, तो आप मुझे इस बात का जवाब दीजिए कि अहंकारी कौन है, अति आत्मविश्वास से कौन लबरेज था और ये बात मैं इसलिए कह रहा हूं कि आपने अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष को नैनीताल लोकसभा क्षेत्र में रैली करने तक के लिए नहीं बुलाया। अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष के प्रति आपका इतना अविश्वास क्यों है। इसको मैं आपका अति आत्मविश्वास कहूं या अहंकार। बहरहाल आप भी यह मान चुके हो कि आप के राष्ट्रीय अध्यक्ष के आने से आपको फायदा कम और नुकसान ज्यादा होता। जहां तक बात भेंट करने की है, वो हमेशा करते रहेंगे। जहां तक मेरी सरकार के कामों का सवाल है उसका आंकलन भी जनता जनार्दन करेगी। आपकी बेचैनी मैं समझ सकता हूँ। खैर भगवान से मैं आपके स्वस्थ जीवन व दीर्घायु होने की कामना करता हूँ।

( उत्तराखंड के नंबर वन न्यूज और व्यूज पोर्टल मिरर उत्तराखंड से जुड़ने और इसके अपडेट पाने के लिये नीचे लाइक बटन को क्लिक करें )

Mirror News

Previous
Next
Loading...
Loading...