Skip to Content

शिक्षिका कामना कापड़ी की संदिग्ध मौत के बाद अब पति ने की आत्महत्या, बेटी हुई अनाथ

शिक्षिका कामना कापड़ी की संदिग्ध मौत के बाद अब पति ने की आत्महत्या, बेटी हुई अनाथ

Closed
by April 18, 2019 News

उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिला मुख्यालय से सटे दौला निवासी शिक्षिका कामना कापड़ी की मौत के मामले में अब एक नया मोड़ आ गया है, बुधवार को कामना के पति का शव मुख्यालय के पास ही लछैर के जंगल में पेड़ से लटका पाया गया । दोनों की एक तीन साल की बेटी है, इस घटना के बाद बेटी के सर से मां-बाप का साया उठ गया है, घर पर भीड़ है और मासूम बिना कुछ समझे और जाने सब-कुछ चुप-चाप देख रही है ।

आपको बता दें कि दौला निवासी शिक्षिका कामना (33 वर्ष) को परिजन सोमवार की शाम बेसुध हालत में जिला अस्पताल लाए थे, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। इस मामले में मृतका के पिता कृष्णानंद भट्ट ने बेटी की हत्या का आरोप लगाते हुए कोतवाली पुलिस को तहरीर सौंपी थी। पिता की तहरीर पर पुलिस ने मृतका के पति शिक्षक नवीन कापड़ी और सास के खिलाफ दहेज हत्या की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया था।

पुलिस जब बुधवार को कामना के पति शिक्षक नवीन कापड़ी को गिरफ्तार करने पहुंची तो वो घर पर नहीं मिले, मोबाइल सर्वेलांस के बाद शिक्षक की लोकेशन लछैर में मिली । पुलिस जब खोजबीन में निकली तो वहां नवीन का शव एक पेड़ से लटका मिला, माना जा रहा है कि नवीन कापड़ी ने आत्महत्या कर ली, हालांकि घटनास्थल से कोई सुसाइट नोट नहीं मिला । 36 वर्षीय शिक्षक नवीन कापड़ी इंटर कॉलेज सातसीलिंग में व्यायाम शिक्षक थे। बताया जा रहा है कि उनके और उनकी मां के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज होने से नवीन काफी परेशान थे। बुधवार सुबह घर से निकलते समय उन्होंने वकील से बातचीत करने के लिए जाने की बात कही थी। इसके बाद वह बाजार न आकर बाइक से सीधे लछैर पहुंच गए, जहां जंगल में बांज के पेड़ से लटककर आत्महत्या कर ली।

( उत्तराखंड के नंबर वन न्यूज और व्यूज पोर्टल मिरर उत्तराखंड से जुड़ने और इसके अपडेट पाने के लिए नीचे लाइक बटन को क्लिक करें )

Mirror News

Previous
Next
Loading...
Loading...