Skip to Content

चालाक अपूर्वा ने पुलिस को चकमा देने की कोशिश की, लेकिन अंत में बताया रोहित के कत्ल का ये राज

चालाक अपूर्वा ने पुलिस को चकमा देने की कोशिश की, लेकिन अंत में बताया रोहित के कत्ल का ये राज

Closed
by April 24, 2019 News

उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय नारायण दत्त तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी की हत्या के मामले में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने उसकी पत्नी अपूर्वा शुक्ला को गिरफ्तार कर लिया है । अपूर्वा शुक्ला कानून की जानकार हैं इसलिए उसने शुरुआत में पुलिस को काफी चकमा देने की कोशिश की। पुलिस को गलत जवाब दिया, लेकिन अंत में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच के सामने उसको हार माननी पड़ी और अपूर्वा शुक्ला ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। यही नहीं पुलिस सूत्रों के अनुसार अपूर्वा शुक्ला ने कत्ल के बाद कई सारे सबूतों को भी नष्ट किया। जिसमें एक सीसीटीवी कैमरे को भी खराब करना शामिल है। और यह सब अपूर्वा शुक्ला ने रात को 1:00 बजे हत्या के बाद अगले 1 घंटे के दौरान किया। अपूर्वा शुक्ला ने पुलिस के सामने अपना जुर्म कबूल कर लिया है।

दरअसल अपूर्वा और उसके पति रोहित शेखर तिवारी के संबंध शादी से ही ठीक नहीं थे, रोहित शेखर तिवारी की मां के अनुसार अपूर्वा शुक्ला और उनके परिवार के लोग रोहित शेखर तिवारी की प्रॉपर्टी पर नजर रखते थे, तो वहीं अपूर्वा शुक्ला को शक था कि रोहित शेखर तिवारी के परिवार की ही रिश्ते की एक औरत के साथ नाजायज संबंध हैं। घटना वाले दिन यानी कि 16 अप्रैल को इस परिवार के रिश्तेदार एक कुमकुम नाम की महिला और रोहित शेखर तिवारी ने साथ में शराब पी और इसी को लेकर रोहित शेखर तिवारी और अपूर्वा शुक्ला के बीच झगड़ा हुआ। रोहित शेखर तिवारी के ड्राइवर के मुताबिक पहले झगड़ा वीडियो कॉल से शुरू हुआ, उसके बाद रोहित शेखर तिवारी जब शाम को घर पहुंचे, तभी उनका और अपूर्वा शुक्ला का झगड़ा हुआ। दोनों के संबंध ठीक नहीं होने के कारण अपूर्वा शुक्ला और रोहित शेखर तिवारी अलग-अलग कमरे में सोते थे, रात को 1:00 बजे के करीब अपूर्वा शुक्ला फिर रोहित शेखर तिवारी के कमरे में चली गई, वहां कुमकुम नाम की महिला को लेकर दोनों के बीच फिर कहा-सुनी हो गई, इसी दौरान अपूर्वा शुक्ला ने शराब के नशे में धुत रोहित शेखर तिवारी का मुंह और नाक दबाकर उनकी हत्या कर दी। हत्या के बाद शुरुआत में अपूर्वा शुक्ला ने पुलिस को भ्रमित करने की कोशिश की और इस मामले को रोहित शेखर तिवारी के प्राकृतिक मौत का मामला बनाया । लेकिन रोहित शेखर तिवारी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में अप्राकृतिक मौत के बाद दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने अपनी जांच में इस पूरे हत्याकांड की परतें खोल दी, आपको बता दें कि रोहित शेखर तिवारी और अपूर्वा शुक्ला ने प्रेम विवाह किया था और वह शादी से पहले लिव-इन में रहते थे।

( उत्तराखंड के नंबर वन न्यूज और व्यूज पोर्टल मिरर उत्तराखंड से जुड़ने और इसके अपडेट पाने के लिए नीचे लाइक बटन को क्लिक करें )

Mirror News

Previous
Next
Loading...
Loading...