Skip to Content

उत्तराखंड के कमांडर नौटियाल ने रचा इतिहास, भारतीय तटरक्षा को दी एक नई ताकत

उत्तराखंड के कमांडर नौटियाल ने रचा इतिहास, भारतीय तटरक्षा को दी एक नई ताकत

Closed
by April 27, 2019 All, News

भारत ने अपनी तटरक्षा की ताकत को बढ़ाते हुए तटरक्षक बल में पेट्रोलिंग जहाज प्रियदर्शनी को शामिल किया है, जो किसी युद्धपोत से कम नहीं है और इस जहाज के शामिल होने के साथ ही उत्तराखंड का सीना भी गर्व से चौड़ा हो गया है, उसका कारण हैं इस जहाज को तटरक्षक बल में कमीशन करने वाले बल के पूर्वी सीमा के कमांडर केआर नौटियाल ।

आपको बता दें कि कमांडर नौटियाल जनजातीय क्षेत्र जौनसार-बावर के सुदूरवर्ती हाजा के निवासी हैं। कृपा राम नौटियाल जौनसार-बावर के दूसरे बड़े अधिकारी हैं, इससे पूर्व जौनसारी मूल के राजेंद्र सिंह तोमर महानिदेशक भारतीय तटरक्षक बल की बड़ी जिम्मेदारी निभा रहे हैं। नौटियाल की पांचवीं तक की पढ़ाई हाजा गांव में हुई। आठवीं की पढ़ाई राजकीय आश्रम पद्धति विद्यालय कालसी से की, दसवीं की पढ़ाई रामपुर से और स्नातक तक की पढ़ाई डीएवी कॉलेज से की है।

आपको बता दें कि भारतीय तटरक्षक बल दुनिया का चौथा बड़ा तटरक्षक बल है और शिप प्रियदर्शनी किसी युद्धपोत से कम नहीं है, इसमें पेट्रोलिंग और सर्विलांस के साथ साथ समुद्री घुसपैठियों और समुद्री डकैतों से लड़ने के लिए पूरी सुविधा मौजूद है और प्रियदर्शनी जैसे आधुनिक शिप को उत्तराखंड निवासी एक कमांडर के द्वारा कमिशन करने से राज्य का सीना गर्व से चौड़ा हो गया है।

( उत्तराखंड के नंबर वन न्यूज और व्यूज पोर्टल मिरर उत्तराखंड से जुड़ने के लिये और इसके अपडेट पाने के लिये आप नीचे लाइक बटन को क्लिक करें )

Mirror News

Previous
Next
Loading...
Loading...