Skip to Content

उत्तराखंड : दुर्भाग्य, आईजी की गाड़ी में बैठे पुलिसकर्मियों पर आईजी बनकर लूट का आरोप

उत्तराखंड : दुर्भाग्य, आईजी की गाड़ी में बैठे पुलिसकर्मियों पर आईजी बनकर लूट का आरोप

Closed
by April 13, 2019 News

उत्तराखंड में पुलिसकर्मियों के द्वारा एक प्रोपर्टी डीलर को लूटने का मामला सामने आया है वो काफी गंभीर हो गया है, उससे भी गंभीर मामला ये है कि इस मामले में पुलिस के आईजी गढ़वाल की कार का इस्तेमाल किया गया । पुलिसकर्मी निलंबित जरूर कर लिए गए हैं पर अभी तक राज्य पुलिस की ओर से गठित एसटीएफ इस मामले में लूटी गई रकम जिसके कि एक करोड़ रुपये होने का दावा है को प्राप्त नहीं कर पाई है । आपको बता दें कि इस मामले में पुलिसकर्मियों में से एक ने खुद को आईजी भी बताया ।

आपको बता दें कि उत्तराखंड में देहरादून में अनुरोध पवार नाम के एक प्रोपर्टी डीलर ने आरोप लगाया है कि उन्हें बीते चार अप्रैल की रात अनुपम शर्मा नाम के एक व्यक्ति ने राजपुर रोड स्थित डब्ल्यूआइसी में पेमेंट के लिए बुलाया था, जब वो वहां पहुंचे तो उन्होंने पैसे से भरा बैग लेकर अपनी गाड़ी में रखा , जब वो लौट रहे थे तो चुनाव आचार संहिता के नाम पर कड़ी जांच जारी थी रात दस बजे के करीब होटल मधुवन के पास उन्हें आईजी की सरकारी में चल रहे पुलिसकर्मियों ने रोक लिया और रकम लूट ली और उसे डरा-धमका कर भगा दिया। इसके बाद उसने पुलिस में रिपोर्ट की । इस मामले पर पुलिस के उच्चाधिकारियों ने एसटीएफ को मामला सौंप संबंधित पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया । सूत्रों के अनुसार पुलिस ने इस मामले में संबंधित जगहों का सीसीटीवी फुटेज अपने कब्जे में लिया है ।

( उत्तराखंड के नंबर वन न्यूज और व्यूज पोर्टल मिरर उत्तराखंड से जुड़ने के लिए और इसके अपडेट पाने के लिए नीचे लाइक बटन को क्लिक करें )

Mirror News

Previous
Next
Loading...
Loading...