Skip to Content

‘मन की बात’ में पीएम मोदी ने किया सर्जिकल स्ट्राइक का जिक्र, कहा सिर्फ दो शब्द कहुंगा, आपका जोश चार गुना ज्यादा बढ़ जाएगा, पढ़ें पूरी खबर

‘मन की बात’ में पीएम मोदी ने किया सर्जिकल स्ट्राइक का जिक्र, कहा सिर्फ दो शब्द कहुंगा, आपका जोश चार गुना ज्यादा बढ़ जाएगा, पढ़ें पूरी खबर

Closed
by September 25, 2022 News

25 September. 2022. New Delhi. रविवार को प्रसारित अपने ‘मन की बात’ कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 28 सितंबर के दिन को याद करते हुए भारत द्वारा पाकिस्तान में की गई सर्जिकल स्ट्राइक का भी जिक्र किया, दरअसल अपने इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 28 सितंबर के दिन को याद कर रहे थे, 28 सितंबर को शहीद भगत सिंह की जयंती है और इस सिलसिले में वह देशवासियों से आजादी के अमृत महोत्सव के तहत इस दिन को विशेष अंदाज में मनाने की अपील कर रहे थे! इस दौरान प्रधानमंत्री ने चंडीगढ़ एयरपोर्ट का नाम बदलकर शहीद भगत सिंह एयरपोर्ट रखने की भी घोषणा की, साथ ही प्रधानमंत्री ने कहा कि ” वैसे मेरे प्यारे देशवासियो, आप सभी के पास 28 सितम्बर को celebrate करने की एक और वजह भी है। जानते हैं क्या है! मैं सिर्फ दो शब्द कहूँगा लेकिन मुझे पता है, आपका जोश चार गुना ज्यादा बढ़ जाएगा। ये दो शब्द हैं- Surgical Strike। बढ़ गया ना जोश! हमारे देश में अमृत महोत्सव का जो अभियान चल रहा है उन्हें हम पूरे मनोयोग से celebrate करें, अपनी खुशियों को सबके साथ साझा करें।” आगे देखिए मन की बात कार्यक्रम का पूरा वीडियो….

इस दौरान प्रधानमंत्री ने हाल ही में नामीबिया से भारत लाए गए चीतों के संबंध में कहा कि ” देश के कोने-कोने से लोगों ने भारत में चीतों के लौटने पर खुशियाँ जताई हैं। 130 करोड़ भारतवासी खुश हैं, गर्व से भरे हैं – यह है भारत का प्रकृति प्रेम। इस बारे में लोगों का एक common सवाल यही है कि मोदी जी हमें चीतों को देखने का अवसर कब मिलेगा ? साथियो, एक task force बनी है। यह task force चीतों की monitoring करेगी और ये देखेगी कि यहाँ के माहौल में वो कितने घुल-मिल पाए हैं। इसी आधार पर कुछ महीने बाद कोई निर्णय लिया जाएगा, और तब आप, चीतों को देख पायेंगे। लेकिन तब तक मैं आप सबको कुछ-कुछ काम सौंप रहा हूँ, इसके लिए MyGovके platform पर एक competition आयोजित किया जाएगा, जिसमें लोगों से मैं कुछ चीजें share करने का आग्रह करता हूँ।चीतों को लेकर जो हम अभियान चला रहे हैं, आखिर, उस अभियान का नाम क्या होना चाहिए! क्या हम इन सभी चीतों के नामकरण के बारे में भी सोच सकते हैं, कि, इनमें से हर एक को, किस, नाम से बुलाया जाए! वैसे ये नामकरण अगर traditional हो तो काफी अच्छा रहेगा, क्योंकि, अपने समाज और संस्कृति, परंपरा और विरासत से जुड़ी हुई कोई भी चीज, हमें, सहज ही, अपनी ओर आकर्षित करती है। यही नहीं, आप ये भी बतायें, आखिर इंसानों को,animals के साथ कैसे behave करना चाहिए! हमारी fundamental duties में भी तो respect for animals पर जोर दिया गया है। मेरी आप सभी से अपील है कि आप इस competition में जरुर भाग लीजिए – क्या पता इनाम स्वरुप चीते देखने का पहला अवसर आपको ही मिल जाए!

इसके अलावा भी प्रधानमंत्री ने विभिन्न विषयों पर अपने विचार रखे, आगे देखिए प्रधानमंत्री के मन की बात कार्यक्रम का पूरा वीडियो….

अत्याधुनिक तकनीक से सुसज्जित उत्तराखंड के समाचारों का एकमात्र गूगल एप फोलो करने के लिए क्लिक करें…. Mirror Uttarakhand News

( उत्तराखंड की नंबर वन न्यूज, व्यूज, राजनीति और समसामयिक विषयों की वेबसाइट मिरर उत्तराखंड डॉट कॉम से जुड़ने और इसके लगातार अपडेट पाने के लिए नीचे लाइक बटन को क्लिक करें)

Previous
Next
Loading...