Skip to Content

उत्तराखंड के लिए दुख का समय, पहाड़ का एक और लाल शहीद हो गया बॉर्डर पर

उत्तराखंड के लिए दुख का समय, पहाड़ का एक और लाल शहीद हो गया बॉर्डर पर

Closed
by February 16, 2019 News

जहां देश में पुलवामा में 40 सैनिकों के शहीद होने पर गुस्सा अपने पूरे उबाल पर है, वहीं जम्मू और कश्मीर से एक और बुरी खबर आ रही है, यहां सेना का एक मेजर रैंक का अधिकारी शहीद हो गया है , सेना के सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार जम्मू कश्मीर के राजौरी सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास अचानक विस्फोट हो गया। इसमे सेना के एक अधिकारी चित्रेश बिष्ट शहीद हो गये हैं। मूलरूप से अल्मोड़ा जिले के पिपली निवासी मेजर चित्रेश बिष्ट उर्फ सोनू का परिवार देहरादून के नेहरू कॉलोनी में रहता है। उनके पिता एसएस बिष्ट रिटायर्ड पुलिस इंस्पेक्टर हैं। बता दें कि चित्रेश की सात मार्च को शादी होनी थी, इसके लिए कार्ड भी छप चुके थे। 

दरअसल आतंकियों की तरफ से प्लांट किए गए आईईडी विस्फोटक को डिफ्यूज करते वक्त यह घटना हुई। जम्मू कश्मीर के राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में नियंत्रण रेखा के डेढ़ किलोमीटर अंदर आईईडी विस्फोटक को आतंकियों ने प्लांट किया गया था।

इससे पहले 11 जनवरी को राजौरी जिले के नौशेरा में ही IED ब्लास्ट हुआ था। इस धमाके में सेना का एक अधिकारी और एक जवान शहीद हो गए थे। 

इधर जम्मू-कश्मीर में 1989 में आतंकवाद के सिर उठाने के बाद से हुए अब तक के सबसे बड़े आतंकी हमले में एक आत्मघाती हमलवार ने गुरुवार को पुलवामा जिले में श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर अपनी विस्फोटकों से लदी एसयूवी केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की बस से टकरा दी, जिसके बाद सीआरपीएफ की बस में विस्फोट हो गया। इस आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 44 जवान शहीद हुए हैं।

( हमसे जुड़ने के लिए नीचे लाइक बटन को क्लिक करें)

Mirror News

Previous
Next