Skip to Content

उत्तराखंड : आम लाइन में खड़े होकर बच्चे का इलाज कराया DM की पत्नी ने, सादगी बनी उदाहरण

उत्तराखंड : आम लाइन में खड़े होकर बच्चे का इलाज कराया DM की पत्नी ने, सादगी बनी उदाहरण

Closed
by July 19, 2019 All, News

किसी जिले में जिला अधिकारी का रसूख काफी बड़ा होता है जिलाधिकारी को उसी तरह देखा जाता है जैसे राज्य में मुख्यमंत्री को और देश में प्रधानमंत्री को। एक तरह से जिलाधिकारी जिले का सर्वे-सर्वा होता है, इस सब के बीच उत्तराखंड के एक जिलाधिकारी की पत्नी ने सादगी की अभूतपूर्व मिसाल पेश की है।

स्थानीय मीडिया की खबरों के अनुसार नैनीताल के जिलाधिकारी सविन बंसल की पत्नी सुरभि बंसल ने वीआइपी कल्चर को दरकिनार कर बीडी पांडेय अस्पताल में अपने बच्चे का उपचार कराने के लिए आम मरीज की तरह बच्चे का उपचार कराया। जिला अधिकारी की पत्नी सवेरे-सवेरे अस्पताल पहुंच गई, उन्होंने दूसरे मरीजों के साथ लाइन में लगकर पर्ची कटवाई, इस दौरान वो अपनी पहचान भी छुपाती रहीं।

उसके बाद उन्होंने बाल रोग विशेषज्ञ डॉक्टर एमएस रावत को अपने बच्चे को दिखाया।

कुछ ही देर में पूरे अस्पताल में यह खबर फैल गई, उसके बाद सोशल मीडिया से लेकर पूरे जिले में जिला अधिकारी की पत्नी की इस सादगी की काफी तारीफ हो रही है। वाकई जिला अधिकारी की पत्नी का यह कदम वीआईपी कल्चर में डूबे हुए लोगों के लिए एक बड़ा उदाहरण है।

( उत्तराखंड के नंबर वन न्यूज, व्यूज और समसामयिक विषयों के पोर्टल मिरर उत्तराखंड से जुड़ने और इसके अपडेट पाने के लिए नीचे लाइक बटन को क्लिक करें )

Previous
Next