Skip to Content

उत्तराखंड पुलिस के इस जवान ने बायांं पैर खोने के बावजूद भी दुनिया में मनवाया अपना लोहा, अधिकारियों ने भी की तारीफ

उत्तराखंड पुलिस के इस जवान ने बायांं पैर खोने के बावजूद भी दुनिया में मनवाया अपना लोहा, अधिकारियों ने भी की तारीफ

Closed
by February 28, 2019 News

एक दुर्घटना में एक पैर चला गया लेकिन जज्बा ऐसा कि उसके बावजूद भी कृत्रिम पैर के सहारे दुनिया में ना सिर्फ उत्तराखंड का, बल्कि भारत का भी नाम रोशन किया ! हम बात कर रहे हैं उत्तराखंड पुलिस के कांस्टेबल शरद चंद्र जोशी की । शरद चंद्र जोशी 2005 से उत्तराखंड पुलिस में कार्यरत हैं, 2015 में एक सड़क दुर्घटना में उन्होंने अपना बायां पैर खो दिया, लेकिन इसके बावजूद भी शरद चंद्र जोशी में हिम्मत नहीं हारी।

शरतचंद्र ने दुबई में आयोजित विश्व खेलों में बैडमिंटन में कांस्य पदक हासिल किया है, डबल्स और सिंगल दोनों ही श्रेणी में पदक जीतने में उन्हें सफलता मिली।

उनकी सफलता पर उत्तराखंड पुलिस भी गर्व कर रही है , पुलिस महानिदेशक अनिल कुमार रतूड़ी और महानिदेशक कानून-व्यवस्था अशोक कुमार ने इस कॉस्टेबल से मुलाकात कर उसकी जमकर तारीफ की और आने वाले समय में स्वर्ण पदक जीतने की आशा व्यक्त की। शरद चंद्र जोशी फिलहाल पीएसी में तैनात हैं और वो आने वाले खेलों के लिए अपनी प्रतिभा को और निखार रहे हैं।

( उत्तराखंड के नंबर वन न्यूज और व्यूज पोर्टल से जुड़ने के लिए नीचे लाइक बटन को क्लिक करें)

Mirror News

Previous
Next