Skip to Content

Uttarakhand क्या यहां चीन रच रहा बड़ी साजिश, नेपाल सेना की वर्दी में दिखे चीनी

Uttarakhand क्या यहां चीन रच रहा बड़ी साजिश, नेपाल सेना की वर्दी में दिखे चीनी

Closed
by June 19, 2020 All, News

उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिले से सटे नेपाल और चीन की सीमा काफी संवेदनशील हो गई है, एक तरफ जहां पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में हुई घटना के बाद भारत और चीन के बीच में तनाव बना हुआ है वहीं नेपाल सीमा पर भी भारत के लिए नुकसानदेह नेपाल और चीन की जुगलबंदी साफ दिखाई दे रही है। धारचूला-लिपुलेख सड़क के निर्माण कार्य के बाद नेपाल ने अपनी सीमा में दारचूला से चीन सीमा से सटे नेपाल के गांव तिंंकर और भजंग बॉर्डर तक सड़क निर्माण का कार्य तेज कर दिया है। गौर करने वाली बात यह है कि नेपाल ने यह सड़क निर्माण अपनी सिविल एजेंसी से लेकर नेपाल सेना को सौंप दिया है। उसके बाद चीन के वन बेल्ट वन रोड सड़क निर्माण कार्य में लगी कंपनी ने यहां भी सड़क निर्माण का कार्य शुरू कर दिया है। कंपनी के चीनी इंजीनियर नेपाल सेना की वर्दी पहन कर यहां निर्माण कार्य में लगे हैं। इसी बुधवार को नेपाल सेना के मुखिया और नेपाल प्रहरी के चीफ ने भी नेपाल सीमा का दौरा किया था।

सड़क निर्माण में चीनी इंजीनियरों के मौजूद होने की पुष्टि कुछ दिनों पहले भारत के सीमावर्ती उन गांवों के लोगों ने भी की है जिनकी जमीन नेपाल में इसी इलाके में है और वो कुछ दिन पहले मौसमी माइग्रेशन के कारण अपने गांव में वापस आए हैं। नेपाल ने इस सीमा पर अपनी कुछ सीमा पोस्ट भी बढ़ा दी हैं, दार्चुला से छांगरू, तिंकर और भजांग बॉर्डर तक सड़क पहुंचाने का नेपाल का मकसद छांगरू में अपनी पोस्ट बनाकर भारत के सामरिक रूप से महत्वपूर्ण कालापानी पर नजर बनाए रखने की है। नेपाल सेना अपने हेलीकॉप्टर के जरिए लगातार यहां सड़क निर्माण के लिए भारी मशीनें पहुंचा रही है। इसी गुरुवार को नेपाल सेना के प्रमुख ने नेपाल प्रहरी के प्रमुख के साथ मिलकर पूरे इलाक़े का दौरा भी किया है, भारत में सीमा सड़क संगठन की ओर से धारचूला से चीन सीमा लिपुलेख तक सड़क निर्माण के बाद नेपाल बौखलाया हुआ है, उसने ना सिर्फ अपने यहां अपना नक्शा बढ़ा कर कई भारतीय इलाकों को अपने नक्शे में दिखाया है, बल्कि इस इलाके में अपनी सामरिक मजबूती के लिए चीन के साथ हाथ भी मिला लिया है, चीन परोक्ष रुप से नेपाल की मदद कर रहा है। चीन और नेपाल की जुगलबंदी को देखते हुए पिथौरागढ़ जिले की नेपाल और चीन सीमा पर सुरक्षा बल और भारतीय खुफिया एजेंसियां सक्रिय हो गई हैं।

अत्याधुनिक तकनीक से सुसज्जित उत्तराखंड के समाचारों का एकमात्र गूगल एप फोलो करने के लिए क्लिक करें…. Mirror Uttarakhand News

( उत्तराखंड की नंबर वन न्यूज, व्यूज, राजनीति और समसामयिक विषयों की वेबसाइट मिरर उत्तराखंड डॉट कॉम से जुड़ने और इसके लगातार अपडेट पाने के लिए नीचे लाइक बटन को क्लिक करें) 

Previous
Next
Loading...
Loading...