Skip to Content

उत्तराखंड सीमा में भी चीनी सेना की घुसपैठ की कोशिश की खबर, LAC पर आक्रामक होते चीन पर PM ने ली हाई लेवल बैठक

उत्तराखंड सीमा में भी चीनी सेना की घुसपैठ की कोशिश की खबर, LAC पर आक्रामक होते चीन पर PM ने ली हाई लेवल बैठक

Closed
by May 27, 2020 News

चीन भारत के साथ वास्तविक नियंत्रण रेखा पर लगातार आक्रामक हो रहा है, लद्दाख में चीन के साथ भारत की तनातनी के बाद अब उत्तराखंड में भी चीनी घुसपैठ की खबर आई है। इधर दिल्ली में चीन के आक्रामक होते हुए रुख पर भारत ने एक उच्च स्तरीय बैठक की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, सीडीएस बिपिन रावत और तीनों सेना प्रमुखों के साथ एक महत्वपूर्ण बैठक की है। इस बैठक में आईटीबीपी और गृह मंत्रालय से जुड़े हुए अधिकारियों के हिस्सा लेने की भी खबर है, बताया जा रहा है कि बैठक में भारत की ओर से चीन सीमा पर किए जा रहे सड़क निर्माण और दूसरे आधारभूत संरचनाओं के विकास को और आगे बढ़ाने की प्रतिबद्धता जताई गई है। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया है कि चीन की गीदड़भबकियों के आगे भारत को झुकने की जरूरत नहीं है। दरअसल चीन ने लद्दाख के एक इलाके में अपना अधिकार जताया है और यहां चीनी सेना ने घुसपैठ करने की कोशिश की है। नियंत्रण रेखा पर चीन लगातार अपनी सेनाओं को बढ़ा रहा है और भारत ने इस तथ्य को भी गंभीरता से लिया है।

एक अखबार की खबर के मुताबिक उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले के हर्षिल सेक्टर में सप्ताह भर पहले चीनी सैनिकों ने घुसपैठ की कोशिश की और उनकी भारतीय सैनिकों के साथ धक्का-मुक्की भी हुई, हालांकि राज्य सरकार की ओर से इस खबर की जानकारी नहीं होने की बात कही गई है, लेकिन इसके बाद इस पूरे इलाके में सेना के एक शीर्ष अधिकारी ने दौरा कर हालात का जायजा लिया। भारत-चीन युद्ध के बाद उत्तरकाशी के हर्षिल सेक्टर में चीनी सेना की घुसपैठ की खबर की यह पहली वारदात है। हालांकि चमोली जिले के बड़ाहोती इलाके में चीनी सेना घुसपैठ करती रही है।

दरअसल कोरोना संक्रमण को लेकर चीन इस वक्त दुनिया भर के निशाने पर है, दुनिया के अधिकतर देश परोक्ष या अपरोक्ष तौर पर कोरोनावायरस के लिए चीन को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। अमेरिका जैसे देश तो चीन पर कृत्रिम रूप से कोरोनावायरस को पैदा करने का आरोप लगा रहे हैं, वहीं चीन भी लगातार आक्रामक हो रहा है। एक ओर जहां कोरोनावायरस को लेकर दुनिया के कई देशों के साथ आरोप-प्रत्यारोप में शामिल हो चुका है तो वहीं भारतीय सीमा पर चीन लगातार आक्रामक होता जा रहा है। एक ओर चीन भारत-चीन सीमा पर भारत की ओर से सड़क निर्माण और अन्य निर्माण कार्यों का विरोध कर रहा है तो वहीं चीन अपने सिस्टम के जरिए लद्दाख के एक निश्चित इलाके पर अपना अधिकार भी जता रहा है, वहीं वास्तविक नियंत्रण रेखा पर चीन और भारत के सैनिकों के बीच धक्का-मुक्की और तनाव की खबर भी लगातार आ रही है। चीन के इन्हीं आक्रामक तेवरों को देखते हुए भारत सतर्क है और उच्च स्तर पर चीन की गतिविधियों पर नजर रख रहा है। अत्याधुनिक तकनीक से सुसज्जित उत्तराखंड के समाचारों का एकमात्र गूगल एप फोलो करने के लिए क्लिक करें…. Mirror Uttarakhand News

( उत्तराखंड की नंबर वन न्यूज, व्यूज, राजनीति और समसामयिक विषयों की वेबसाइट मिरर उत्तराखंड डॉट कॉम से जुड़ने और इसके लगातार अपडेट पाने के लिए नीचे लाइक बटन को क्लिक करें) 

Previous
Next
Loading...
Loading...