Skip to Content

Home / शिक्षा / प्रतियोगी परीक्षा

उत्तराखंड में सहायक कृषि अधिकारी बनने का मौका, 280 पदों पर निकली नौकरी

उत्तराखंड में कृषि विभाग में सहायक कृषि अधिकारी बनने का एक सुनहरा मौका सामने आया है, इस पद के लिए सरकार की ओर से विज्ञप्ति जारी की गई है, कुल 280 पदों के लिए विज्ञप्ति जारी की गई है और इसमें आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए 10 फ़ीसदी आरक्षण का प्रावधान भी है। इन पदों के लिए बीएससी कृषि न्यूनतम शैक्षिक अर्हता रखी गई है। अधीनस्थ सेवा चयन…

मधुमक्खी पालन में गौमूत्र के प्रयोग से मिल रहे हैं क्रांतिकारी परिणाम, पढ़िए डा. रुचिरा का शोध

मौनपालन में गौमूत्र चिकित्सा एवं प्रयोग में लाने की तकनीक मधुमक्खी प्रकृति की एक अद्भूत कृति है। एक फूल से दूसरे फूल पर मंडरा कर पर-परागण द्वारा फसलोत्पादन में वृद्धि के साथ-साथ, फूलों से मकरन्द एकत्र कर औषधीय गुणों से युक्त अमृततुल्य शहद की जननी मधुमक्खी ही है। मधुमक्खी फसलों में 75 प्रतिषत पर-परागण कर फसल उत्पादन में कई गुना बढ़ोत्तरी करती है। अतः यदि यह कहा जाए कि मधुम्खी,…

उत्तराखंड : पढ़ाई के लिए मां ने भी बेटे की कक्षा में लिया एडमिशन, शिक्षा की ललक ने किया मजबूर

इंसान के अंदर अगर शिक्षा पाने की ललक हो तो उसके लिए रास्ते निकल ही आते हैं, ऐसा ही एक वाकया देखने को आया है उत्तराखंड के देहरादून के त्यूणी इलाके में। यहां अपनी पढ़ाई की ललक को पूरा करने के लिए एक मां ने अपने बेटे के साथ उसी की कक्षा में एडमिशन ले लिया। हिंदुस्तान अखबार में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार क्षेत्र के सरनाड़ पानी गांव निवासी…

उत्तराखंड के जंगलों में 200 साल पहले घूमते थे गैंडे, फिर कहां गए पढ़िए

अंग्रेजी हुकूमत के वक्त एक प्रसिद्ध चित्रकार थॉमस डैनियल और उनके भतीजे विलियम डेनियल ने अपनी किताब में खुलासा किया था कि उत्तराखंड के जंगलों में महज 230 साल पहले गैंडे पाए जाते थे । थॉमस और विलियम डेनियल ने ये गैंडे पौड़ी जिले के कोटद्वार से लगे जंगलों में देखे थे । अंग्रेजी हुकूमत के वक्त के दस्तावेज इस बात की तस्दीक कर रहे हैं । उपर्युक्त दस्तावेज के…

उत्तराखंड के इस गांव में नहीं होती हनुमान जी की पूजा, गांव वालों को है उनसे एक शिकायत

कोई भी उत्तराखंड को पूरी तरह जानने का दावा नहीं कर सकता, उत्तराखंड में कई सारी ऐसी जगह हैं, जिनके रहस्यों से सभी लोग रूबरू नहीं हैं। आज आपको उत्तराखंड के एक ऐसे ही गांव के बारे में बताते हैं जहां हनुमान जी की पूजा नहीं की जाती, क्योंकि यहां के लोगों को हनुमान जी से शिकायत है । हम बात कर रहे हैं उत्तराखंड के द्रोणागिरि गांव की, द्रोणागिरि…

आखिर क्यों की थी रेखा के पति ने शादी के 7 महीने बाद खुदकुशी, जानिए रहस्य

बॉलीवुड की 80 के दशक की काफी मशहूर और खूबसूरत अभिनेत्री रेखा को आज किसी पहचान की जरूरत नहीं है। रेखा ने बॉलीवुड की कई सारी हिट फिल्मों में काम किया है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि रेखा ने 1990 में उद्योगपति मुकेश अग्रवाल से शादी की थी। जब रेखा की उम्र 35 साल और मुकेश अग्रवाल की उम्र 37 साल थी। रेखा की इस शादी को लेकर…

इस ग्रह का 1 साल है हमारे 1000 साल के बराबर, वैज्ञानिकों ने खोज की है नए ग्रह की

वैज्ञानिकों को हमारे सौरमंडल में एक नया ग्रह खोजने में सफलता मिली है, ये ग्रह अब तक का सूर्य से सबसे दूरी पर खोजा गया ग्रह है। फिलहाल इसका नाम फारआउट रखा गया है। यह ग्रह पृथ्वी से पृथ्वी और सूरज की दूरी के सौ गुना दूरी पर स्थित है। ये एक ड्वार्फ ग्रह है, ये 1000 साल में सूरज का एक चक्कर लगाता है। हमारी पृथ्वी 365 दिन में…

यहां एक बाज़ को रखा गया है नौकरी पर, इमानदारी से करता है अपनी ड्यूटी

हर जगह आपने घरों में चूहे को भगाने के लिए बिल्ली, बिल्ली को भगाने के लिए कुत्ते, सांप को भगाने के लिए नेवले और बंदरों को भगाने के लिए लंगूर पालने की बातें तो सुनी होगी| ठीक उसी तरह कबूतरों को भगाने के लिए एक बाज को जिम्मेदारी दी गयी है, जो वो पिछले कई सालों से निभा रहा है| चलिए विस्तार में जानते है| ‘विंबलडन’ प्रतियोगिता के बारे में…

मंगल ग्रह पर पहुंचा पृथ्वी से गया अंतरिक्ष यान, कई अनसुलझे सवालों का जवाब देगा

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा का अंतरिक्ष यान मार्स इनसाइट मंगल ग्रह पर उतर गया है, भारतीय समय के अनुसार ये यान सोमवार देर रात 2:00 बजे के करीब मंगल ग्रह पर उतरा, इससे पहले 2010 में क्यूरियोसिटी नाम का अंतरिक्ष यान मंगल ग्रह पर उतरा था, उसके बाद मार्स इनसाइट मंगल ग्रह पर उतरने वाला पहला अंतरिक्ष यान है। उतरने के कुछ ही समय के बाद इस अंतरिक्ष यान ने…

कुछ ऐसा हुआ है कि एक झटके में खत्म हो गए होंगे सभी एलियन

अगस्त 2016 में प्रोक्जिमा बी नाम के एक ग्रह की खोज हुई थी जो अपने सूर्य प्रोक्जिमा सेऩ्टुरी के इर्द-गिर्द चक्कर लगाता है। ये ग्रह अपने सूर्य के काफी नजदीक था लेकिन पृथ्वी की तरह खुद नहीं घूमता था, जिस कारण इसका एक हिस्सा हमेशा सूर्य की ओर होता है और एक हिस्सा सूर्य के विपरित। इस ग्रह का सूर्य भी सामान्य नहीं है, ये एक ड्वार्फ स्टार है जो…