Skip to Content

Home / शिक्षा / प्रतियोगी परीक्षा

मधुमक्खी पालन में गौमूत्र के प्रयोग से मिल रहे हैं क्रांतिकारी परिणाम, पढ़िए डा. रुचिरा का शोध

मौनपालन में गौमूत्र चिकित्सा एवं प्रयोग में लाने की तकनीक मधुमक्खी प्रकृति की एक अद्भूत कृति है। एक फूल से दूसरे फूल पर मंडरा कर पर-परागण द्वारा फसलोत्पादन में वृद्धि के साथ-साथ, फूलों से मकरन्द एकत्र कर औषधीय गुणों से युक्त अमृततुल्य शहद की जननी मधुमक्खी ही है। मधुमक्खी फसलों में 75 प्रतिषत पर-परागण कर फसल उत्पादन में कई गुना बढ़ोत्तरी करती है। अतः यदि यह कहा जाए कि मधुम्खी,…

मंगल ग्रह पर दिखे रेंगने वाले जीव, वैज्ञानिकों को मिली तस्वीरें, देखिए

पहली बार वैज्ञानिकों ने मंगल ग्रह पर जीवन होने का दावा किया है, सिर्फ दावा नहीं बल्कि वैज्ञानिकों का कहना है कि तस्वीरों में रेंगने वाले जीव दिखाई दे रहे हैं। वैज्ञानिकों के इस दावे के बाद मंगल पर जीवन को लेकर एक बार फिर बहस शुरू हो गई है, ये खबर चौंकाने वाली जरूर है लेकिन हम आपको बताते हैं की इन तस्वीरों में क्या है….. पहली बार वैज्ञानिकों…

भारतीय मूल के अभिजीत बनर्जी को पत्नी संग मिला अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार

2019 के लिए अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार भारतीय मूल के अमेरिकी अर्थशास्त्री अभिजीत बनर्जी और उनकी पत्नी फ्रांस की अर्थशास्त्री एस्टर डुफलो और अमेरिकी अर्थशास्त्री माइकल क्रेमर को वैश्विक गरीबी को कम करने के लिए उनके प्रयोगात्मक दृष्टिकोण के लिए देने की घोषणा की गई है । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोबेल पुरस्कार विजेताओं को ट्वीट कर बधाई दी है। वहीं अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार पाने वाले भारतीय-अमेरिकी अभिजीत बनर्जी…

यहां एक बाज़ को रखा गया है नौकरी पर, इमानदारी से करता है अपनी ड्यूटी

हर जगह आपने घरों में चूहे को भगाने के लिए बिल्ली, बिल्ली को भगाने के लिए कुत्ते, सांप को भगाने के लिए नेवले और बंदरों को भगाने के लिए लंगूर पालने की बातें तो सुनी होगी| ठीक उसी तरह कबूतरों को भगाने के लिए एक बाज को जिम्मेदारी दी गयी है, जो वो पिछले कई सालों से निभा रहा है| चलिए विस्तार में जानते है| ‘विंबलडन’ प्रतियोगिता के बारे में…

नैनीताल के सातताल में चल रहा है YMCA का विशेष ट्रैनिंग प्रोग्राम, 100 से ज्यादा महिला शिक्षक ले रही हैं एडवांस प्रशिक्षण

सामाजिक संस्था नयी दिल्ली YMCA (वाय एम सी ऐ) द्वारा नैनीताल के सातताल में आयोजित एक ट्रैनिंग प्रोग्राम में १०० से भी ज़्यादा महिलाएंं हिस्सा ले रही हैं। यह सभी महिलाएं नयी दिल्ली वाये एम सी ऐ के सामाजिक और मानव विकास विभाग में शिक्षक या कौंसिलर के रूप में कार्य करती हैं। चार दिन तक चलने वाला ये ट्रेनिंग शिविर वाये एम् सी ऐ के सात ताल स्तिथ प्रोग्राम…

देहरादून, हरिद्वार, ऋषिकेश में मेट्रो रेल के लिए कर्मचारियों की भर्ती शुरू, पूरी जानकारी पढ़िए

उत्तराखंड मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने हरिद्वार, देहरादून और ऋषिकेश में बनने वाले लाइट मेट्रो प्रोजेक्ट के लिए कर्मचारियों की भर्ती शुरू कर दी है, कॉरपोरेशन की ओर से जिन पदों पर कर्मचारियों की भर्ती के लिए विज्ञापन जारी किया गया है वो पद इस प्रकार हैं…… Uttarakhand Metro Jobs 2019: Vacancy details 1. General Manager (Finance) – 1 post Pay Scale: Rs.1,20,000 – 2,80,000/- (IDA) Qualification: Bachelor in Commerce and CA/ICWA/MBA (Finance)…

देहरादून, हरिद्वार, ऋषिकेश में लाइट मेट्रो के लिए कर्मचारियों की भर्ती शुरू, इन पदों पर निकली भर्ती

उत्तराखंड मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने हरिद्वार, देहरादून और ऋषिकेश में बनने वाले लाइट मेट्रो प्रोजेक्ट के लिए कर्मचारियों की भर्ती शुरू कर दी है, कॉरपोरेशन की ओर से जिन पदों पर कर्मचारियों की भर्ती के लिए विज्ञापन जारी किया गया है वो पद इस प्रकार हैं…… Uttarakhand Metro Jobs 2019: Vacancy details 1. General Manager (Finance) – 1 post Pay Scale: Rs.1,20,000 – 2,80,000/- (IDA) Qualification: Bachelor in Commerce and CA/ICWA/MBA (Finance)…

उत्तराखंड में सहायक कृषि अधिकारी बनने का मौका, 280 पदों पर निकली नौकरी

उत्तराखंड में कृषि विभाग में सहायक कृषि अधिकारी बनने का एक सुनहरा मौका सामने आया है, इस पद के लिए सरकार की ओर से विज्ञप्ति जारी की गई है, कुल 280 पदों के लिए विज्ञप्ति जारी की गई है और इसमें आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए 10 फ़ीसदी आरक्षण का प्रावधान भी है। इन पदों के लिए बीएससी कृषि न्यूनतम शैक्षिक अर्हता रखी गई है। अधीनस्थ सेवा चयन…

उत्तराखंड : पढ़ाई के लिए मां ने भी बेटे की कक्षा में लिया एडमिशन, शिक्षा की ललक ने किया मजबूर

इंसान के अंदर अगर शिक्षा पाने की ललक हो तो उसके लिए रास्ते निकल ही आते हैं, ऐसा ही एक वाकया देखने को आया है उत्तराखंड के देहरादून के त्यूणी इलाके में। यहां अपनी पढ़ाई की ललक को पूरा करने के लिए एक मां ने अपने बेटे के साथ उसी की कक्षा में एडमिशन ले लिया। हिंदुस्तान अखबार में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार क्षेत्र के सरनाड़ पानी गांव निवासी…

उत्तराखंड के जंगलों में 200 साल पहले घूमते थे गैंडे, फिर कहां गए पढ़िए

अंग्रेजी हुकूमत के वक्त एक प्रसिद्ध चित्रकार थॉमस डैनियल और उनके भतीजे विलियम डेनियल ने अपनी किताब में खुलासा किया था कि उत्तराखंड के जंगलों में महज 230 साल पहले गैंडे पाए जाते थे । थॉमस और विलियम डेनियल ने ये गैंडे पौड़ी जिले के कोटद्वार से लगे जंगलों में देखे थे । अंग्रेजी हुकूमत के वक्त के दस्तावेज इस बात की तस्दीक कर रहे हैं । उपर्युक्त दस्तावेज के…

Loading...