Skip to Content

उत्तराखंड की शशिकला और गंगा को मिला राष्ट्रीय फ्लोरेंस नाइटिंगेल पुरस्कार, राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने किया सम्मानित

उत्तराखंड की शशिकला और गंगा को मिला राष्ट्रीय फ्लोरेंस नाइटिंगेल पुरस्कार, राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने किया सम्मानित

Closed
by November 7, 2022 All, News

7 Nov. 2022. Nainital. उत्तराखंड की शशिकला पांडे और गंगा जोशी को राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू के हाथों राष्ट्रीय फ्लोरेंस नाइटेंगल पुरस्कार 2021 से सम्मानित किया गया है, नई दिल्ली में राष्ट्रपति भवन में नर्सिंग सेवाओं में उत्कृष्ट कार्य के लिए राष्ट्रीय फ्लोरेंस नाइटेंगल सम्मान 2021 का आयोजन किया गया था।

शशि कला पांडे नैनीताल के बीडी पांडे जिला चिकित्सालय में नर्स के रूप में कार्यरत हैं और वह इस क्षेत्र में 20 वर्षों से ज्यादा की सेवा दे चुकी हैं, कोविड काल के दौरान उनके उल्लेखनीय योगदान के लिए उन्हें कोरोना योद्धा पुरस्कार से भी नवाजा गया। उनके द्वारा एक नेत्रहीन विकलांग को कई महीनों तक उत्कृष्ट सेवाएं दी गई, नर्सिंग के क्षेत्र में उनके उत्कृष्ट कार्य के लिए उन्हें यह पुरस्कार दिया गया है। वही गंगा जोशी खटीमा के नागरिक अस्पताल में एएनएम हैं, उन्हें भी इस पुरस्कार से नवाजा गया है।

राष्ट्रीय फ्लोरेंस नाइटिंगेल पुरस्कारों की स्थापना वर्ष 1973 में स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा समाज में नर्सों और नर्सिंग पेशेवरों द्वारा प्रदान की गई सराहनीय सेवाओं को मान्यता देने के रूप में की गई थी। राष्ट्रपति भवन में हुए एक आयोजन में नर्सिंग क्षेत्र में उत्कृष्ट सेवा देने के लिए देशभर से आए कई लोगों को सम्मानित किया गया। शशिकला पांडे को यह पुरस्कार मिलने पर नैनीताल और बी डी पांडे जिला चिकित्सालय में लोगों में काफी खुशी है। खटीमा के नागरिक अस्पताल में भी गंगा जोशी को यह पुरस्कार मिलने पर काफी खुशी का माहौल देखा गया है।

अत्याधुनिक तकनीक से सुसज्जित उत्तराखंड के समाचारों का एकमात्र गूगल एप फोलो करने के लिए क्लिक करें…. Mirror Uttarakhand News

( उत्तराखंड की नंबर वन न्यूज, व्यूज, राजनीति और समसामयिक विषयों की वेबसाइट मिरर उत्तराखंड डॉट कॉम से जुड़ने और इसके लगातार अपडेट पाने के लिए नीचे लाइक बटन को क्लिक करें)

Previous
Next
Loading...